Skip to main content

आसानी से लोन कैसे ले सकते है | Asani Se Loan Kaise Le Sakte H

 आसानी से लोन कैसे ले सकते  जब हमे पैसे की जरुरत होती है तो हम आसानी से लोन कैसे ले सकते है इस बात पर चिंतन करने लगते है परन्तु हम आपको आसान प्रक्रिया बताते है जिसके माद्यम से आसानी से लोन ले सकते है | जब हमे ज्यादा जरुरत होती है या फिर हमें व्यवसाय करने के लिए पैसे की जरुरत होती है तो  हम इस प्रक्रिया से लोन ले सकते है|                                            लोन के लिए हम प्रॉपर्टी और व्यवसाय पर भी पैसा जब हमे ज्यादा जरुरत होती है या फिर हमें व्यवसाय करने के लिए पैसे की जरुरत होती है तो  हम इस प्रक्रिया से लोन ले सकते है ,लोन के लिए हम प्रॉपर्टी और व्यवसाय पर भी पैसा आसानी से मिल जाता है, हम लोन के लिए इन चीजों पर आसानी से निकटम शाखा में जाकर संपर्क करके लोन लेकर अपने पैसे या व्यवसाय का काम हो सकता है |  लोन लेने से क्या फायदे होते है ? लोन लेने से एक तो ये फायदा किसी को जल्दी पैसा नहीं देना पड़ता है  पैसा किस्तों में दे सकते है  कम ब्याज पर पैसा मिल जाता है  धीरे धीरे किस्तों में पैसा जाता है तो हमे ज्यादा दिक्कत नहीं होती है पैसे जमा करवाने में |  लोन लेने से क्या फायदे होते है

chance।अवसर जीवन में कितनी बार मिलता है?

chance।अवसर जीवन में एक ही बार मिलता है।

हर व्यक्ति को सफल होने के लिए जिन्दगी हमेंशा उसे एक अवसर जरुर प्रदान करती है,उस व्यक्ति समझना चाहिए होता है कि ये अवसर उसे मिल रहा है यह दोबारा नहीं मिलने वाला है,उसे चुकना नहीं चाहिए,उस अवसर को भूना लेना चाहिए।ताकि वह अवसर जीवन में आपकी सफलता का अवसर रहे।हमें हमेंशा हमारी असफलताओं के लिए दूसरों को दोष देते हुए लोग जीवन में बहुत मिलेंगे।लेकिन जब समय आता है सफल होने का ऐसे अवसर को प्राप्त जो कर लेता है जीवन के उस मुकाम को वो हासिल कर लेता है,जहां पहूंचने के लिए दुनिया सपना देखती रहती है।

chance।अवसर पर महान सक्सीयत की कहानी

एक बार एक बहुत बड़े व्यक्ति का साक्षात्कार चल रहा था,सीधा प्रसारण चल रहा था ,पत्रकार ने बीच में उस महान सक्सीयत से पूछी की आपकी सफलता का राज क्या है।

तब उस व्यक्ति ने पत्रकार को अपनी जेब से चैक बुक निकालकर एक ब्लेंक चेक पत्रकार को सौप दिया ,और कहा गया कि आपकी जितनी ईच्छा हो उस चैक में राशि भर के अपने पास रख लो,पत्रकार चौंकते हुए और लाईव प्रसारण चल रहा था तो कैसे चेक को स्वीकार करता है ,तो उसने मना कर दिया ,जैसे ही पत्रकार ने चैक लेने से मना किया ,तब उस महान सक्सीयत ने कहा कि अगर आपकी जगह मैं होता तो ये( chance)अवसर नहीं छोड़ता और चेक पर राशि भर लेता ।मेरी सफलता का राज यही कि मैंने जीवन में कभी (chance)अवसर को जाने नहीं दिया ।

chance।अवसर कैसे प्राप्त करें?

जीवन में आपको कही पर भी छोटा हो या बड़ा कार्य हो जब भी करने को मिलता है तो हम बहुत सी बार शर्म रख कर या ये सोच कर मना कर देते हैं कि मैं नहीं कर पाऊंगा,या मेरे करने जैसा नहीं है? ये मैं नहीं कर सकता हूं,जैसे विचार आपके उसी अवसर को समाप्त कर देते हैं जहां आपको कुछ करने को अवसर (chance) मिला है।हमें ऐसे समय में कुछ कर दिखाना है क्योंकि जिन्दगी आगे रहकर आपको कुछ दे रही है कि इस कार्य को करिये,हम क्यों पिछे हट जाते हैं कि नहीं मैं नहीं कर सकता हूं,ऐसे क्यों? हमैं हमैंशा तैयार रहना चाहिए उस अवसर को भूनाने के लिए।और कार्य को शुरु कर देना चाहिए।

 chance।अवसर कब और कहां मिलता है?

जीवन में अवसर मिलने का कोई स्थान या समय फिक्स नहीं होता है।ना कोई तय रहता कि हमें कब अवसर मिलेगा,ये हमें तय करना चाहिए कि जब भी कोई कार्य या कुछ कर दिखाने का मौका मिला है इसे मैं कभी नहीं छोडूंगा।क्योंकि ऐसे अवसर बार बार नहीं मिलते हैं।जिन्दगी हर शक्स को कुछ करने का एक अवसर जरुर देती है,हमें वही अवसर को प्राप्त करके कुछ हासिल करना है।

Comments

Popular posts from this blog

एक आदर्श व्यक्ति कैसे बनें? | How to become an ideal person?

एक आदर्श व्यक्ति कैसे बनें?|How to become an ideal person? अपना व्यक्तित्व ही व्यक्ति की पहचान होती है। व्यक्ति जितना अधिक अपने आचरणों में परिवर्तन लायेगा,वैसा ही उसका आचरण होता जायेगा,जिस प्रकार से उसका आचरण रहेगा,उसका कद भी वैसा ही बढ़ता व घटता रहेगा।एक आदर्श व्यक्ति में कई प्रकार के गुण विद्यमान रहते हैं।एक आदर्श व्यक्ति बनने के लिए हमें अपने आप को तैयार कर बहुत सी खुशियों को त्याग कर अनुशासन के साथ जीवन जीना होता है ।अनुशासनात्मक व इमानदार व्यक्तित्व ही आपको एक आदर्श व्यक्ति बना सकते हैं।  आदर्श व्यक्ति में क्या क्या गुण होने चाहिए? आदर्श व्यक्ति में बहुत सारे गुणों का समावेश होता है।कुछ की जानकारी इस प्रकार है। 1.एक आदर्श व्यक्ति हमेंशा सत्य बोलते हैं,मिथ्या शब्द से कोसो दूर रहते हैं। 2.हमेशा ईमादार रहकर ईमानदारी से कार्य करते हैं। 3.एक आदर्श व्यक्ति समय के पाबंद रहते हैं,जिस समय पहूंचना है उसी समय पर पहूंचते हैं। 4.वचन के पक्के होते है।अपनी बात पर अटल रहते है। 5. हमेंशा दूसरों का सुख देखना पसंद करते हैं,स्वयं के कारण किसी को दु:खी नहीं करते हैं। 6.सभी को साथ लेकर चलते हैं,ऊंच

वाहन किसे कहते हैं ?Vahan kise kahte h

 vehicle|वाहन किसे कहा जाता है। जो किसी वस्तु या शरीर को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने में सहयोग प्रदान करते हैं,वाहन कहलाते है।वाहन का उपयोग सामान्यत: व्यक्ति किसी जगह जाने के लिए या फिर किसी वस्तु को कही पर जो व्यक्ति की क्षमता से कही गुना ज्यादा वजन को कही पर भी कुछ ही समय में पहूंचाता है।वाहन बहुत ही उपयोगी साधन है।यह सामान्यत: पेट्रोल,डिजल या गैस से चलने वाले साधन होते हैं।   सभी वाहन अलग अलग प्रकार के होते हैं,किसी वाहन तीन पहिया तो कोई वाहन दुपहिया या चार पहिये वाले वाहन भी रहते हैं।कुछ वाहन आकाश में उड़ने वाले है तो कुछ पानी में तैरने वाले भी रहते है। VEHICLE(वाहन के प्रकार) वाहन (vehicle) कई प्रकार के होते हैं, 1. कुछ वाहन(vehicle) जो एक स्थान से दूसरे स्थान पर सवारी को ले जाते हैं जैसे -बस ,मोटरसाईकिल,जहाज,साईकिल,कार, जीप आदि। 2. कुछ वाहन(Vehicle)वजनी माल को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने का कार्य करते है। जैसे ट्रेक्टर,ट्रक,लोडिंग वाहन इनके अन्तर्गत आते है। VEHICLE|वाहन को चलाते समय क्या सावधानी रखनी चाहिए। किसी भी वाहन को चलाते समय हमें बहुत सारी बातें है जिन्हें ध

हमसफर कैसा होना चाहिए ? Hamsafar kaisa Hona chahiye

  अच्छा हमसफर कौन बन सकता है ? अच्छा हमसफर जीवन भर साथ दे सके ऐसा होना चाहिए । हर छोटी से छोटी बात पर हमें समझने वाला वह झगड़ा नहीं करने वाला होना चाहिए। हमसफर अच्छा जो हमारी भावनाओं की कद्र करें वो अच्छा हमसफर होता है ।जो बिना कहे ही  हमारी आंखो को पढ़ कर हमारे मन की बात समझ ले वो अच्छा हमसफर होता है। जब भी उसकी याद आये आंखे भर आये वो हमारा सच्चा हमसफर होता है । उसके दूर होने पर जीवन में एक खाली एहसास सा लगने लगे वो अच्छा हमसफर हो सकता है । दिल व मन अपने पास ही रखना चाहे जिसे वो अच्छा हमसफर हो सकता है  । हमारा हम सफर कैसा होना चाहिए ।  जब भी मन मैं प्रश्न आता है कि हमें अपना जीवन साथी कैसे चूनना है या कैसा होना चाहिए?  यह सभी के मन में प्रश्न आते हैं। जिनकी शादी होना बाकी है। मैं आपको कुछ आपके जीवन के साथी के चुनाव के लिए कुछ बाते आपसे साझा कर रहा हूँ । हमारा चुनाव हमेंशा चेहरा देखकर नहीं होना चाहिए । हमारे चयन प्रक्रिया में किसी का चेहरा खुबसुरत देखकर ही हमें उसका सही चयन या चुनाव कहना कुछ समय के लिए बेहतर हो सकता है लेकिन लम्बे समय तक  बने रहने के लिए हमें उसके गुणों का चयन करना